Chhattisgarhyouth

crpf chhattisgarh : नक्सलियों से लोहा लेने बस्तर के युवाओं की भर्ती

 crpf job in cg : केन्द्र सरकार ने बस्तर के युवाओं को तोहफा दिया है। नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में नक्सलियों से लोहा लेने को अब बस्तर संभाग के युवाओं को सीआरपीफ  (crpf chhattisgarh)  में भर्ती करवाई जायेगी। इसके तहत कांस्टेबल के पदों में भर्ती कराई जायेगी। इस भर्ती में मूल रूप से जनजातीय युवाओं की भर्ती की जायेगी।  इसके अलावा प्रदेश के बस्तर संभाग के तीन जिलों के  युवाओं को भर्ती में नई छूट दी गई है। यह छूट कांस्टेबल-पद की शैक्षणिक योग्यता में दी जायेगी।

also Read – cg upcoming job news – 900 छत्तीसगढ़ होमगार्ड पदों की निकलेगी भर्ती

CG Job Recruitment : दरअसल प्रधानमंत्री मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक हुई थी। इस बैठक में दक्षिण छत्तीसगढ़ के 03 जिले अर्थात् बीजापुर, दंतेवाड़ा और सुकमा में भर्ती के लिये उम्मीदवारों के शैक्षणिक योग्यता में बदलाव का फैसला लिया गया। इससे आने वाले समय में ऐसे युवाओं को भी जोड़ा जायेगा जो कम शिक्षित हैं। यानी  सीआरपीएफ में 40 कांस्टेबल (सामान्य ड्यूटी) के पदों के लिये जो भर्ती होगी उसमें आवश्यक न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता को कम किया गया है यानी 10वीं पास से कम करके 8वीं कक्षा पास संबंधी गृह मंत्रालय के प्रस्ताव पास किया गया है।

crpf cg : अब बस्तर संभाग के तीन जिलों के के युवा भी सीआरपीएफ केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों में शामिल कानून और व्यवस्था बनाये रखने में अपना योगदान देंगे । साथ ही नक्सलवाद जैसी समस्याओं से निपटने के और विद्रोह से निपटने के साथ-साथ आंतरिक सुरक्षा के साथ अपने क्षेत्र की सुरक्षा अपनी ही जिम्मेदारी में लेंगे।  

cg crpf job : युवाओं को मिलेगा प्रशिक्षण और शिक्षा

कांस्टेबल पदों के लिये भर्ती रैली निकालकर  तीन जिलों के आंतरिक क्षेत्रों में इस रैली के व्यापक प्रचार के लिए सभी साधनों को अपनाने के अलावा, सीआरपीएफ बाद में इन नए भर्ती प्रशिक्षुओं को परिवीक्षा अवधि के दौरान औपचारिक शिक्षा प्रदान करेगा।  सीआरपीएफ ने छत्तीसगढ़ के अपेक्षाकृत पिछड़े क्षेत्रों से 400 मूल जनजातीय युवाओं को कांस्टेबल (सामान्य ड्यूटी) के रूप में भर्ती करने का प्रस्ताव रखा है।

crpf job in chhattisgarh : केन्द्र देगी मदद  :

सीआरपीएफ (crpf recruitment 2022) उनकी परिवीक्षा अवधि के दौरान अध्ययन सामग्री, किताबें तथा कोचिंग सहायता प्रदान करने जैसी हर संभव मदद करेगा इसके अलावा सेवा में स्थायी पद10वीं पास की निर्धारित न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता प्राप्त करने के बाद ही उन्हें  दिया जायेगा, इस प्रकार इन प्रशिक्षुओं को औपचारिक शिक्षा दी जाएगी और  निर्धारित शैक्षणिक योग्यता हासिल करने में नए प्रशिक्षुओं की सुविधा के लिए, यदि आवश्यक हो, तो अवधि में उपयुक्त विस्तार भी किया जा सकता है। उन्हें 10वीं कक्षा की परीक्षा देने की सुविधा के लिए, इन भर्तियों का पंजीकरण केंद्र/राज्य सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त राष्ट्रीय मुक्त विद्यालय संस्थान में किया जाएगा।

सीआरपीएफ (Crpf Chhattisgarh job) ने 2016-2017 के दौरान छत्तीसगढ़ के चार जिलों बीजापुर, दंतेवाड़ा, नारायणपुर और सुकमा (sukma )से अनुसूचित जनजाति के उम्मीदवारों की भर्ती करके एक बस्तरिया बटालियन का गठन किया था। हालांकि, यह इष्टतम परिणाम नहीं दे सकी, क्योंकि आंतरिक क्षेत्रों के मूल युवा अपेक्षित शैक्षणिक योग्यता यानी 10वीं पास न करने के कारण भर्ती प्रक्रिया में प्रतिस्पर्धा नहीं कर पाए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button