World

    Latest World News in Hindi, Breaking News (न्यूज़) from World
    World News in Hindi, International News Headlines in Hindi

    • india vs sri lanka: भारत श्रीलंका को भेज रहा है राशन, जानिये कितनी मदद दे चुका है इंडिया

        भारत अपने पड़ोसी देशों को कितना महत्व देता है इस बात का अंदाजा नहीं लगाया जा सकता है। पाकिस्तान और चीन जैसे देशों को छोड़ दें तो भारत के बाकि सभी पड़ोसी देशों की भारत चिंता करता है। उनको संकट में अपनी आर्थिक मदद भी देता है।  जानिये कितनी मदद दे चुका है इंडिया श्रीलंका में दूध और सब्जी…

      Read More »
    • sri lanka crisis : श्रीलंका की गलतियों से सीखना होगा

      श्रीलंका और भारत की कोई तुलना नहीं हो सकती .उत्पादन से लेकर इकानामी और विदेशी मुद्रा भंडार तक और इस आलेख का मकसद ये भी नहीं कि हम सोचने लगे कि भारत का हाल श्रीलंका जैसा हो सकता है .यहां तो बस इस बात पर ध्यान दिलाना है कि हम वहीं गलतियां न करें जो पड़ोसी देश ने की है.…

      Read More »
    • Pakistan Political Crisis – चीनियों को नहीं मिला वेतन…

      पाक PM इमरान के राज में पाकिस्तान में राजनीति का अस्तित्व खतरे में है। बात की जाये इमरान खान की तो जब 2018 से उनकी सरकार पाकिस्तान में आई है। तब से ही पाकिस्तान ने मांगी भीख । अब आपको बता दें कि पाकिस्तान एक ऐसा मुल्क है जो अपनी रोजी-रोटी के लिये भी तरसता हुआ देश कहलाता है। पाक…

      Read More »
    • नाटो के खिलाफ रूस का रूख, भारत की नीतियां विश्व पर डालेंगी असर

      रूस और यूक्रेन वार में भारत की उपयोगिता विश्व की विकसित देशों की सोच से परे है। भारत विकसित देशों से भी आगे निकलकर अपनी रणनीति का उदाहरण पेश कर रहा है।  इधर नाटों के खिलाफ जो रूस का रूख रहा है उससे स्पष्ट है कि रूस नाटों को अमेरिका की कटपुतली समझ रहा है।  भारत रूस का साथ देने…

      Read More »
    • भारत और यूएस ने ताईवान को चीन के चंगुल से निकालने के लिये मोर्चा खोल दिया है

      ताईवान पर चीन और अमेरिका के बीच तनातनी देखने को मिल रही है। दरअसल अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाईडेन के साथ हुई मीटिंग में चीन के राष्ट्रपति जिनपिंग ने तेवर दिखा दिये। उन्होंने ताईवान पर चेतावनी दे दी। इस पर जो बाईडेन भी कहा पीछे रहते उन्होंने भी जवाब में चीन को करारा उत्तर दिया। बात है ताईवान की ताईवान को…

      Read More »
    Back to top button